History of the establishment of Khalsa Panth 13 April 1699

Indian History, Punjab History, Today News GK Article 0 Comments
Khalsa Panth 13 April 1699

खालसा पंथ की स्थापना का इतिहास 13 अप्रैल 1699

खालसा पंथ की स्थापना सिखों के दसवें गुरु गोबिन्द सिंह जी ने 13 अप्रैल, 1699 को बैसाखी वाले दिन आनंदपुर साहिब में की। इस दिन उन्होंने पाँच प्यारों को अमृतपान करवा कर खालसा बनाया, जो पहले तो अलग-अलग जाति के थे और उन पाँच प्यारों के हाथों से स्वयं भी अमृतपान किया। वह ‘पंज प्यारे’ भाई दया सिंह, भाई धर्म सिंह, भाई हिम्मत सिंह, भाई मोहकम सिंह और भाई साहिब सिंह के नाम से जाने जाते हैं।

कैसे हुई थी ‘खालसा पंथ’ की स्थापना
जगह केशगढ़, आनंदपुर साहिब, 13 अप्रैल, 1699 को बैसाखी वाले दिन सिखों के दसवें गुरु गुरु गोबिंद सिंह जी ने एक खास दीवान आयोजित करवाने का आदेश दिया।

सभी संगतें गुरु जी के दर्शन के लिए केशगढ़, आनंदपुर साहिब एकत्रित हो गईं। तभी गुरु जी एक तंबू से निकलकर बाहर आए और संगतों की तरफ आगे बढ़े, म्यान में से तलवार निकाली बोले आप सब में से ऐसा कोई है, जो अभी, इसी वक्त मेरे लिए अपना सिर कलम करवाने की क्षमता रखता हो?

तभी भीड़ में से एक आवाज आई। वह आवाज लाहौर के खत्री परिवार ‘दया राम’ की थी।वह आगे बढ़ा और बोला, ‘गुरु जी, आपके लिए मेरी जान कुर्बान है।फिर गुरु जी ने उसे अपने पास बुलाया और तंबू के अंदर ले गए, थोड़ी देर बाद गुरु जी बाहर आ गए और उन की तलवार से खून की बूंदें टपक रही थीं।

दूसरे शीश: फिर संगतों की तरफ आगे बढ़े और बोले एक और शीश चाहिए फिर हस्तिनापुर का धरम दास आगे बढ़ा
तीसरा शीश: गुरु जी ने तीसरे सिर की मांग की फिर दर्जी मोहकम चंद खड़े हुए,
हिम्मत राय और बिदर के साहिब चंद आगे

फिर कुश समय की बाद केसरिया लिबास में वह पांचों नौजवान तंबू के बाहर अये। उनके सिर पर सुंदर केसरी रंग की एक ही प्रकार की पगड़ी थी। गुरु जी ने पांचों को अमृत छकाया और उन्हें खालसा पंथ के पंज प्यारे निर्धारित किया और उन पाँच प्यारों के हाथों से स्वयं भी अमृतपान किया।

पांच ककार

तलवार, केश, कछा, कड़ा और कंघा

Punjab GK online study online study material daily update Daily read online update News Articles Banking Science Technology Education Economy GK Entertainment Money Gadgets Finance medical engineering courses automobile industry Job Investment, Latest best skill development courses online visit myshorttrick.com website and share on Facebook Punjab GK related question