Parliament House of India / Administrator and Construction Process

Indian Political Economics, Rajasthan Political Economics 0 Comments
Parliament House Administrator and Construction

भारतीय संविधान के भाग 5 तथा अनुच्छेद 79-123 तक संसद का उल्लेख किया गया है। -संसद का मुख्य कार्य कानुन का निर्माण करना तथा संविधान संसोधन करना होता है। भारतीय संसद को व्यवस्थापिका भी कहते है। जिसके दो सदन हैं – उच्चसदन राज्यसभा और निम्नसदन लोकसभा। राज्यसभा में 250 सदस्य होते हैं जबकि लोकसभा में 552। राज्यसभा के सदस्यों का चुनाव, अप्रत्यक्ष विधि से 6 वर्षों के लिये होता है,भारतीय संसद का निर्माण कैसे होता है— लोकसभा + राज्यसभा + राष्ट्रपति

इस पोस्ट को हिंदी में पढ़ने के लिया पेज को नीचे की और स्क्रोल करो

Parliament has been mentioned in Part 5 of the Indian Constitution and Article 79-123. The main function of the Parliament is to create a law and to amend the constitution. Indian Parliament is also called an administrator Has two houses – High Rajya Sabha and Lower House Lok Sabha. There are 250 members in the Rajya Sabha while 552 in the Lok Sabha. The election of members of the Rajya Sabha is for 6 years by indirect method, how the Indian Parliament is formed – Lok Sabha + Rajya Sabha + President

 

संसद/व्यवस्थापिका कि प्रक्रिया

(A).भारतीय संविधान के भाग 5 तथा अनुच्छेद 79-123 तक संसद का उल्लेख किया गया है।

(B).संसद का मुख्य कार्य कानुन का निर्माण करना तथा संविधान संसोधन करना होता है।

(C).भारतीय संसद को व्यवस्थापिका भी कहते है।-

(D).संसद को भारत का ह्रदय भी कहते है क्योकी देश का संचालन संसद से ही होता है।

(E).भारत मे वर्तमान मे द्विसदनात्मक व्यवस्थापिका है और यह व्यवस्था सन् 1935 के भारत शासन अधिनियम से लि गई है।

(F).भारतीय संविधान की अधिकतम (75%) बाते/बिंदू सन् 1935 के भारत शासन अधिनियम से लि गई है। इसिलिए इस अधिनियम को लघु भारतीय संविधान/(Mini Constitution of India) भी कहते है।

(A). Parliament has been mentioned in Part 5 of the Indian Constitution and Article 79-123.

 (B) The main function of the Parliament is to create a law and to amend the constitution.

(C). Indian Parliament is also called an administrator.

(D). The Parliament is also called the heart of India because the country is governed by Parliament only.

(E). India currently has biennial administrator and this system has been taken from the Government of India Act of 1935.

(F). The maximum (75%) of the Indian Constitution has been attached / dated to the Government of India Act of 1935. Therefore, this Act is also called the Mini Constitution of India.

(1) संसद भवन कि निर्माण  प्रक्रिया

(A).निर्माण- सन् 1921-1927 तक

(B).निवकर्ता- ड्यूक अॉफ केनॉट (अंग्रेज अधिकारी)

(C).उद्घाटनकर्ता- लार्ड इरविन (सन् 1927 मे)

(D).वास्तुकार- एडवर्ड लूटियंस/लूटियन (यह दिल्ली का भी वास्तुकार है) तथा हर्बल बेकर

(E).कुल दरवाजे- 12

(F).कुल मंजिला- 3

(G).कुल खंम्भे/पिलर/स्तम्भ- 144

(H).आतंकवादी हमला- संसद पर आतंकी हमला 13 दिसम्बर, 2001 शुक्रवार को किया गया था जिसका मुख्य आरोपि अफजल गुरु को सन् 2013 मे दिल्ली की तिहाड़ जैल मे फांसी दे दी गई थी।

(A). Construction- From 1921-1927

(B). Resident-Duke of Canotte (British officer)

(C). Inaugurator- Lord Irwin (in 1927)

(D) Architect- Edward Lutyens / Lutyens (this is also the architect of Delhi) and Herbal Baker

(E). Total Doors – 12

(F). Total building- 3

(G). Total Poles / Pillars / Columns – 144

(H). Terrorist Attack – A terrorist attack on Parliament was made on Friday, 13th December 2001, whose main charge was Afzal Guru hanged in Delhi’s Tihar Jail in 2013.

(2) संसद के कुल सत्र- 3

(A) बजट सत्र- फरवरी से मई तक (सबसे लम्बा सत्र)

(B) मानसुन सत्र- जुलाई से सितम्बर तक

(C) शितकालीन सत्र- नवम्बर से दिसम्बर तक (सबसे छोटा सत्र)

(A) Budget session- from February to May (longest session)

(B) Monsoon session- July to September

(C) Winter session- November to December (shortest session)

(3).संसद या व्यवस्थापिका के कुल सदन- 2

(A) राज्य सभा

(B) लोक सभा

(A) Rajya Sabha

(B) Lok Sabha

(4).संसद या व्यवस्थापिका के कुल अंग/भाग- 3

(A) राष्ट्रपती

(B) राज्य सभा

(C) लोक सभा

(A) President

 (B) Rajya Sabha

(C) Lok Sabha

(5).संसद की सदस्यता का अन्त-

अगर संसद के किसी भी सदन के सदस्य द्वारा बिना अनुमती/अध्यक्ष को बिना बताये लगातार 60 दिनो तक अवकाश ले लिया/अनुपस्थित हो जाता है तो उसकी सदस्यता रद की जा सकती है।

If the member of any House of Parliament is allowed to leave / absent for 60 consecutive days, without permission, without the permission, then his membership can be canceled.

(6).संसद की बैठके-

(A).संसद के सदस्यो की एक वर्ष मे कम से कम दो बैठके अवश्य बुलानी चाहिए तथा इन बैठको के बीच 6 माह से अधिक का अन्तराल नही होना चाहिए।

(B).संसद की बैठको को राष्ट्रपती बुलाता है लेकिन इन बैठको की अध्यक्षता उन सदनो के अध्यक्ष ही करते है।

(A) Members of Parliament should have at least two meetings in one year and there should not be more than 6 months between these meetings.

(B). The President calls the meeting of the Parliament but presides over these meetings presidents of those houses.

(7).संसद मे कुल निर्वाचित सदस्य- 776

(A) राज्य सभा 233 सदस्य

(B) लोक सभा 543 सदस्य

(A) Rajya Sabha 233 members

 (B) Lok Sabha 543 members

(8).संसद का प्रश्न काल-

(A).संसद के सदनो का प्रथम एक घण्टा (11 AM-12 PM) प्रश्न काल के नाम से जाना जाता है जिसमे सरकार से लोकहित विषयो पर लिखित प्रश्न विपक्ष द्वारा पुछे जाते है।

(A). The first one hour (11 AM-12 PM) of the House of Parliament is known as the Question Hour in which the questions written on the subjects of public from the government are asked by the opposition.

(9).संसद का शुन्य काल-

(A).प्रश्न काल के बाद अगला एक घण्टा (12 PM-1 PM) शुन्य काल का होता है जिसमे सार्वजनिक मुद्दो पर सरकार से विपक्ष द्वारा मौखिक प्रश्न पुछे जाते है।

(A) After the Question Hour, the next one hour (12 PM-1 PM) is of zero period in which verbal questions are asked by the opposition on behalf of the government on public issues.

(10).संसद की प्रमुख समितिया-

(A) प्राक्कलन/अनुमानित समिति-

(1).स्थापना- 10 अप्रेल, 1950

(2).कार्यकाल- 1 वर्ष (यह स्थाई समिति है)

(3).सदस्य- कुल 30 सदस्य (केवल लोकसभा सदस्य तथा इनमे से कोई भी मंत्री परिषद का सदस्य नही होता)

(4).अध्यक्ष- लोकसभा अध्यक्ष द्वारा मनोनित किया जाता है।

(5).उपनाम- स्थायी मितव्ययिता समिति

(6).मुख्य कार्य- सरकारी धन का दुरूपयोग रोकना तथा सरकार को अपव्यय करने का सुझाव देना

(7).यह संसद की सबसे बड़ी समिति है।

(1). Establishment – April 10, 1950

(2). Work – 1 year (this is a permanent committee)

 (3) Members: Total 30 members (Lok Sabha members only and none of them is a member of Council of Ministers)

(4). President- Lok Sabha Speaker is nominated by the President.

 (5). Nickname – The Standing Fiduciary Committee

 (6). Main work- preventing misuse of government money and suggesting wastage of government

 (7). This is the largest parliamentary committee.

(B) लोक लेखा समिति-

(1).स्थापना- 1921

(2).सदस्य- कुल 22 (15 लोकसभा+7 राज्यसभा)

(3).अध्यक्ष- अध्यक्ष विपक्ष पार्टी का होता है जिसकी नियुक्ती लोकसभा अध्यक्ष करता है।

(4).उपनाम- प्राक्कलन समिति की जुड़वा बहन

(5).मुख्य कार्य- नियंत्रक एवं महालेखा परिक्षक की रिपोर्ट की जांच करना तथा संसद को सौपना

Note= यह संसद कि सबसे प्राचीन समिति है।

(1). Establishment – 1921

 (2). Members – Total 22 (15 Lok Sabha +7 Rajya Sabha)

 (3). President-President is the Opposition Party, which is appointed by the Speaker of Lok Sabha.

(4). Nickname – The twin sister of the estimate committee

 (5). To examine and report to Chief Parliamentary and Comptroller’s Report

 Note = This is the oldest committee in parliament.

(c) अनुसुचित जाति/जनजाति कल्याण समिति-

सदस्य- कुल 30 (20 लोकसभा+10 राज्यसभा)

(D) सार्वजनिक उपक्रम समिति-

Members- Total 30 (20 Lok Sabha +10 Rajya Sabha)

सदस्य- कुल 22 (15 लोकसभा+7 राज्यसभा)

(D) Public Undertaking Committee-

Members- Total 22 (15 Lok Sabha +7 Rajya Sabha)

 

Lok Sabha Governmental Body Of India

List Of Lok Sabha Speakers Of India

Indian Constitution Objectives Or Introduction

Click Here:राजस्थान राज्य का निर्माण और एकीकरण के बारे में जानकारी (23-03-2019)

राजस्थान में जनजातीय आंदोलन का मुख्य उद्देश्य के बारे में जानकारी (24-03-2019)