President Of India Important Facts Part (5)

Indian Political Economics, Indian Static GK 0 Comments
President of India Important Facts)

The president is the Supreme Commander of the Indian Armed Forces. The president can declare war or conclude peace, on the advice of the Union Council of Ministers headed by the prime minister. All important treaties and contracts are made in the president’s name. And Some Important Facts About President of India: Indian President is also known as Rashtrapati. He is the first citizen of India as well.

इस पोस्ट को हिंदी में पढ़ने के लिया पेज को नीचे की और स्क्रोल करो

 

President Of India Important Facts Part (4)

A total of 3 joint sessions have been convened in India so far. like-

(1). First joint session

(A). Subject – Anti Dowry Act

(B). Time – 6 May 1961

(C). President – Dr. Rajendra Prasad

(D). Prime Minister- Pandit Jawahar Lala Nehru

(2). Second joint session

(A). Subject – Banking Services Act

(B). Time – 16 May 1978

(C). President- Neelam Sanjeeva Reddy

(D). Prime Minister- Morar Ja Desai

(3). Third joint session

(A). Subject- Anti Terrorism Act (POTA)

(B). Time – 26 May 2002

(C). President – Dr. A P J Abdul Kalam

(D). Prime Minister – Atal Bihari Vajpayee

(4). Article 123

(A). Article 123 mentions the President’s ordinance.

(5). Ordinance

(A). Ordinance is a temporary law.

(B). If the Parliament is not in session and a law is required to be implemented, then in such a situation the President of India can implement the ordinance of Article 123 for 6 months.

(C). The ordinance implemented by the President of India should be passed by the Parliament in a minimum of 6 weeks and maximum of 6 months as soon as the Parliament starts (session starts), otherwise the ordinance is repealed.

भारत में अब तक कुल 3 बार संयुक्त अधिवेशन बुलाये गये है। जैसे-

(1). पहला संयुक्त अधिवेशन

(A).  विषय- दहेज विरोधी अधिनियम

(B).  समय- 6 मई 1961

(C). राष्ट्रपति- डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद

(D).  प्रधानमंत्री- पंडित जवाहर लाला नेहरू

(2). दुसरा संयुक्त अधिवेशन

(A).  विषय- बैंकिंग सेवा अधिनियम

(B).  समय- 16 मई 1978

(C).  राष्ट्रपति- नीलम संजीव रेड्डी

(D).  प्रधानमंत्री- मोरार जा देसाई

(3). तीसरा संयुक्त अधिवेशन

(A).  विषय- आतंकवाद निरोधक अधिनियम (POTA)

(B).  समय- 26 मई 2002

(C).  राष्ट्रपति- डाॅ. एपीजे अब्दुल कलाम

(D).  प्रधानमंत्री- अटल बिहारी वाजपेयी

(4). अनुच्छेद 123-

(A).  अनुच्छेद 123 में राष्ट्रपति के अध्यादेश का उल्लेख है।

(5). अध्यादेश-

(A).  अध्यादेश अस्थाई कानून होता है।

(B).  अगर संसद का सत्र नहीं चल रहा है और किसी कानून को लागू करना आवश्यक है तो ऐसी स्थिति में भारत का राष्ट्रपति 6 माह के लिए अनुच्छेद 123 का अध्यादेश लागू कर सकता है।

(C).  भारत के राष्ट्रपति द्वारा लागू किया गया अध्यादेश संसद के शुरू (सत्र शुरू) होते ही न्यूनतम 6 सप्ताह तथा अधिकतम 6 माह में संसद के द्वारा पारित कर देना चाहिए अन्यथा अध्यादेश निरस्त हो जाता है।