Rajya Sabha The House of Representatives

Indian Political Economics, Rajasthan Political Economics 0 Comments
Important Question Related Rajya Sabha the house

काउंसिल ऑफ स्टेट्स, जिसे राज्य सभा भी कहा जाता है, एक ऐसा नाम है जिसकी घोषणा सभापीठ द्वारा सभा में 23 अगस्त, 1954 को की गई थी। इसकी अपनी खास विशेषताएं हैं। भारत में द्वितीय सदन का प्रारम्भ 1918 के मोन्टेग-चेम्सफोर्ड प्रतिवेदन से हुआ। राज्य सभा भारतीय लोकतंत्र की ऊपरी प्रतिनिधि सभा है। लोकसभा निचली प्रतिनिधि सभा है। राज्यसभा में 245 सदस्य होते हैं। जिनमे 12 सदस्य भारत के राष्ट्रपति के द्वारा नामांकित होते हैं।

इस पोस्ट को हिंदी में पढ़ने के लिया पेज को नीचे की और स्क्रोल करो

The Council of States, also called the Rajya Sabha, is a name that was announced by the Speaker in the Assembly on August 23, 1954. It has its own special features. The second house in India began with the Montague-Chelmsford Report of 1918. Rajya Sabha is the Upper House of Representatives of Indian Democracy. Lok Sabha is the Lower House of Representatives. There are 245 members in the Rajya Sabha. 12 members of which are nominated by the President of India.

 

राज्य सभा के बारे प्रमुख तथ्य

(1).अनुच्छेद 80 की प्रक्रिया

(A).इसि अनुच्छेद के अनुसार 3 अप्रेल, 1952 को राज्य सभा का गठन किया गया था।

(B).राज्य सभा कि प्रथम बैठक 13 मई, 1952 को हुई थी।

(A). According to this article, the Rajya Sabha was formed on 3 April 1952.

(B) The first meeting of the Rajya Sabha was held on May 13, 1952.

(2). राज्य सभा के प्रमुख  उपनाम

(A) संसद का उच्च/वरिष्ठ सदन

(B) विद्ववानो का सदन

(C) राज्यो का सदन

(D) अलोकप्रिय सदन

(E) संसद का द्वितिय सदन

(F) संसद का स्थाई सदन (क्योकि राज्य सभा को कभी भंग नही किया जा सकता है केवल स्थगित किया जा सकता है।

(A) High / Senior Houses of Parliament

(B) The House of the Divine

(C) House of States (D) Unpopular House

(E) Second House of Parliament

(F) Permanent House of Parliament (Because the Rajya Sabha can never be dissolved, can only be postponed.

(3). राज्य सभा के अध्यक्ष के बारे प्रमुख तथ्य

(A).राज्य सभा के अध्यक्ष को सभापति भी कहते है जो कि वर्तमान का उपराष्ट्रपति होता है।

(B).राज्य सभा एकमात्र ऐसा सदन है जिसका अध्यक्ष उस सदन का सदस्य न होते हुए भी अध्यक्ष होता है।

(C).भारत का प्रथम राज्य सभा अध्यक्ष (प्रथम उपराष्ट्रपति) डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन था

Note==वर्तमान राज्य सभा अध्यक्ष (उपराष्ट्रपति) वैकेया नायडु है।

(A) The Chairman of the Rajya Sabha is also called the Chairman, who is the Vice-President of the present.

(B). The Rajya Sabha is the only House whose president is not a member of that House, but it is also the president.

(C). India’s first Rajya Sabha Speaker (First Vice-President) was Dr. Sarvapalli Radhakrishnan

Venkaiah-Naidu-Rajya-Sabha-Chairman
Venkaiah-Naidu-Rajya-Sabha-Chairman

Note == The present Rajya Sabha Speaker (Vice President) is Venkaiah Naidu.

(4).उपाध्यक्ष के बारे प्रमुख तथ्य

(A).राज्य सभा के सदस्य अपने मे से ही उपसभापति/उपाध्यक्ष का चयन करते है

(B).राज्य सभा का प्रथम उपाध्यक्ष S.V कृष्णामुर्ति राव था

(A) Members of Rajya Sabha have elected Vice-Chairman / Vice President from their own position.

(B) was the first Vice President of Rajya Sabha S.V. Krishnamurti Rao

(5). त्याग पत्र  के बारे प्रमुख प्रक्रिया

राज्य सभा का अध्यक्ष अपना त्याग-पत्र (उपराष्ट्रपति के रूप मे) राष्ट्रपति को देता है जबकि उपाध्यक्ष अपना त्याग-पत्र अध्यक्ष (उपराष्ट्रपति) को देता है।

The Chairman of the Rajya Sabha gives his resignation letter (in the form of Vice President) to the President while the Vice President gives his resignation to the President (Vice President).

(6). कार्यकाल के बारे प्रमुख तथ्य

राज्य सभा के सभापति का कार्यकाल (उपराष्ट्रपति के रूप मे) 5 वर्ष होता है जबकि उपाध्यक्ष व सदस्यो का कार्यकाल 6 वर्ष होता है।

The tenure of the Chairman of the Rajya Sabha (in the form of Vice-President) is 5 years, while the Vice President and his tenure of members is 6 years.

(7). निर्वाचन (चुनाव) कि प्रमुख प्रक्रिया

(A).राज्य सभा के सदस्यो का निर्वाचन उस राज्य कि विधान सभाओ के निर्वाचित सदस्यो (M.L.A) द्वारा किया जाता है।

(B).राज्य सभा के एक तिहाई सदस्य प्रति 2 वर्षो बाद सेवानिवृत होते रहते है और उनके स्थान पर नये सदस्य आ जाते है तथा सेवानिवृत सदस्यो को पुनः भी चुना जा सकता है

(A) Members of Rajya Sabha are elected by the elected members of the State Legislative Assembly (M.L.A.). (B). One-third of the members of the Rajya Sabha are retired every two years and new members come in their place and retired members can be re-elected.

(8). वर्तमान राज्य सभा सिटे- 245

(1) राज्यो+केन्द्रशासित प्रदेशो से निर्वाचित- 233

(2) राष्ट्रपति द्वारा मनोनित- 12

(1).अनुच्छेद 80 के तहत राष्ट्रपति द्वारा 12 सदस्य कला, साहित्य, विज्ञान, समाज सेवा, खेल जगत आदि क्षेत्रो से मनोनित किये जाते है।

(2).राष्ट्रपति द्वारा संसद मे कुल 14 सदस्य (2 लोक सभा+ 12 राज्य सभा) मनोनित किये जाते है।

Note=सर्वाधिक राज्य सभा सिटो वाला राज्य उत्तर प्रदेश है जिसमे कुल 31 सिटे है।

(1) Elected from the States / UTs – 233 (2) Considered by the President- 12

(1) .According to Article 80, 12 members are considered by the President in areas such as Arts, Literature, Science, Social service, Sports, etc.

(2). A total of 14 members (2 Lok Sabha + 12 Rajya Sabha) are considered in the Parliament by the President. Note = Most of the Rajya Sabha seats are state Uttar Pradesh, which has 31 seats.

(3).राजस्थान कि कुल राज्य सभा सिटे 10 है

(4).दिल्ली कि कुल राज्य सभा सिटे 3 है

(5).पोण्डिचेरी कि कुल राज्य सभा सिटे 1 है

(4). The total number of seats in Delhi is 3

(5). Total number of seats in Pondicherry is 1

(9). राज्य सभा के विशेष अधिकार/शक्तिया-

(1) अनुच्छेद 249-

(10).इस अनुच्छेद के अनुसार राज्य सभा राज्य सुची के किसी भी विषय को राष्ट्रीय महत्व का दर्जा दे सकती है।

(A) अनुच्छेद 252-

(B).इस अनुच्छेद के अनुसार राज्य सभा दो/दो से अधिक विधान मण्डलो द्वारा पारित विषय पर कानुन बना सकती है।

(1) Article 249- (10). According to this article, the Rajya Sabha may give status of national importance to any topic of state index.

(A) Article 252

(B) According to this article, the Rajya Sabha can make a law on the subject passed by two or more legislative assemblies.

(3) अनुच्छेद 312-

(A).इस अनुच्छेद के अनुसार केवल राज्य सभा ही नयी अखिल-भारतीय सेवाओ का सर्जन/गठन कर सकती है

(12).भारत मे वर्तमान मे कुल 3 अखिल-भारतीय/प्रशासनिक सेवाये है। जैसे-

(अ) I.A.S- Indian Administrative Service (भारतीय प्रशासनिक सेवा)

(ब) I.P.S- Indian Police Service (भारतीय पुलिस सेवा)

(स) I.F.S- Indian Forest Service (भारतीय वन सेवा)

 

This is the list of rajya sabha till date of India.
This is the list of rajya sabha till date of India.

 

संसद/व्यवस्थापिका कि प्रक्रिया

Lok Sabha Governmental Body Of India

List Of Lok Sabha Speakers Of India

Indian Constitution Objectives Or Introduction

Click Here:राजस्थान राज्य का निर्माण और एकीकरण के बारे में जानकारी (23-03-2019)

राजस्थान में जनजातीय आंदोलन का मुख्य उद्देश्य के बारे में जानकारी (24-03-2019)

हम आशा करते हैं कि आपको पढकर अच्छा लगा होगा, तो अपने दोस्तों में शेयर करें ।