Top Headline News 22-07-2019 Current Affair GK Articles Hindi English

GK News Headlines, Today News GK Article 0 Comments
Top Headline news Current Affair GK Articles

Welcome to Current Affairs Today. Current Affairs Today update Top Headline news on 22- July   2019 is your source for latest and Best Daily Current Affairs 2019: Current Affairs Q&A for competitive exams UPSC, TNPSC, IAS, RRB and Latest Current Affairs 2019 for banking exams IBPS PO Clerk, SBI and today updates for SBI Bank PO & Clerk Exams, SSC MTS 2019,SSC CGL,Insurance, UPSC, SSC, Railway, State PSC.

इस पोस्ट को हिंदी में पढ़ने के लिया पेज को नीचे की और स्क्रोल करो

 

Current Affairs – 22– july 2019 And GK Question & Answers

(1).What can be the punishment for not taking coins in India?

(A). In fact, the Reserve Bank and the Finance Ministry are coming to the news from across the country that the bank is also refusing to take coins with the shopkeepers and the applicants. In this way people are unknowingly committing a crime which falls under the category of crime.

(B) The Reserve Bank of India is the highest monetary authority in India. It is authorized to print notes ranging from 2 rupees to 10,000 rupees. A rupee note is printed by the Ministry of Finance instead of the RBI and it is signed by the Finance Secretary.

(1).भारत में सिक्के ना लेने पर क्या सजा हो सकती है?

(A).दरअसल रिज़र्व बैंक और वित्त मंत्रलाय के पास पूरे देश से ख़बरें आ रहीं हैं कि दुकानदार और ग्रहकों के साथ बैंक भी सिक्के लेने से मना कर रहे हैं. इस तरह लोग जाने अनजाने एक जुर्म कर रहे हैं जो कि अपराध की श्रेणी में आता है.

(B)भारतीय रिजर्व बैंक भारत का सर्वोच्च मौद्रिक प्राधिकरण है. यह 2 रुपये से लेकर 10,000 रुपये तक के नोटों को प्रिंट करने के लिए अधिकृत है. एक रुपये का नोट आरबीआई के बजाय वित्त मंत्रालय द्वारा मुद्रित किया जाता है और उस पर वित्त सचिव के हस्ताक्षर होते हैं.

Note:सिक्का अधिनियम 2011: भारत में सिक्कों के साथ क्या नहीं कर सकते

(C). If any person refuses to accept any coin (if the coin is in the currency) then the FIR can be lodged against him. The action will be taken against him under the provisions of the Indian Currency Act and the IPC. The matter can be complied with in the Reserve Bank.

(C).यदि कोई व्यक्ति किसी भी सिक्के (यदि सिक्का चलन में है) को लेने से मना करता है तो उसके खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई जा सकती है. उसके खिलाफ भारतीय मुद्रा अधिनियम व आइपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई होगी. मामले की शिकायत रिजर्व बैंक में भी की जा सकती है.

(2).Penalty and fine for not taking coin

punishment for not taking coins in India
punishment for not taking coins in India

(A) Under Section 6 of the Coin Act, 2011, there is a valid currency for the payment of coins issued by the Reserve Bank, provided that the coin has not been made forged.

(B) Under Section 489 A to 489 of the Indian Penal Code, it is a crime to refuse to print fake notes, coins and coins and collect the right coins under notes or coins. Under these sections, there is a provision of financial fines, imprisonment or both by a legal court.

(C). If a person refuses to accept legal coins, then you should immediately make his video and file a complaint in the nearest police station. The police will have to take action against that person.

सिक्का ना लेने पर सजा और जुर्माना 

(A).सिक्का अधिनियम, 2011 की धारा 6 के तहत रिजर्व बैंक द्वारा जारी सिक्के भुगतान के लिए वैध मुद्रा हैं बशर्ते कि सिक्के को जाली नहीं बनाया गया हो.

(B).भारतीय दण्ड संहिता की धारा 489ए से 489इ के तहत नोट या सिक्के का जाली मुद्रण, जाली नोट या सिक्के चलाना और सही सिक्कों को लेने से मना करना अपराध है. इन धाराओं के तहत किसी विधिक न्यायालय द्वारा आर्थिक जुर्माना, कारावास या दोनों का प्रावधान है.

(C).अगर कोई व्यक्ति वैध सिक्के को लेने से मना करता है तो आप तुरंत उसका वीडियो बनायें और पास के थाने में शिकायत दर्ज कराएँ. पुलिस को उस व्यक्ति के खिलाफ कार्यवाही करनी ही पड़ेगी.

(3).Penalty for Rumor

(A). There is also a provision for punishment for those who spread rumors by telling the correct coin as a fake. Apart from the rules of the RBI on rumors, action under Section 505 of the IPC can also be taken. There is a provision of maximum punishment of 3 years and fine, whereas smuggling of coins is a crime which can be punishable with 7 years.

अफवाह फ़ैलाने की सजा

(A).जो लोग सही सिक्के को भी नकली बताकर अफवाह फैलाते हैं उनके लिए भी सजा का प्रावधान है. अफवाह फैलाने वालों पर आरबीआई के नियम के अलावा आईपीसी की धारा 505 के तहत भी मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा सकती है. इसमें अधिकतम 3 साल की सजा और जुर्माने का प्रावधान है जबकि सिक्के को गलाना एक अपराध है जिसमें 7 साल की सजा हो सकती है.

(4).Which coins are closed

(A) The Ministry of Finance of the Government of India has withdrawn coins of coins of very low value such as 1 paise, 2 paise, 3 paise, 5 paise, 10 paise, 20 paise and 25 paise denomination from June 30, 2011 . So these are not legal paces and any shopkeeper and bank can refuse to take them.

Note: Keep in mind that 50 paise is currently a valid coin in India and shopkeepers and public can not refuse to accept it.

कौन से सिक्के बंद हो गये हैं 

(A).भारत सरकार के वित्त मंत्रालय ने 30 जून 2011 से बहुत ही कम वैल्यू के सिक्के जैसे 1 पैसे, 2 पैसे, 3 पैसे, 5 पैसे, 10 पैसे, 20 पैसे और 25 पैसे मूल्यवर्ग के सिक्के संचलन से वापस लिए गए हैं. इसलिए ये वैध मुद्रा नहीं हैं और कोई भी दुकानदार और बैंक वाला इन्हें लेने से मना कर सकता है.

Note: ध्यान रहे कि 50 पैसा अभी भारत में वैध सिक्का है और दुकानदार और पब्लिक उसको लेने से मना नहीं कर सकते हैं.

(B). So you may have realized that taking illegal coins is not a crime because the coin is an order issued by the Government of India. If a person or organization refuses to take coins, then it means that it is refusing to obey the government order. Hence legal action will be taken against him.

(B).तो आप समझ गये होंगे कि वैध सिक्कों को ना लेना एक अपराध है क्योंकि सिक्का भारत सरकार के द्वारा जारी किया गया आदेश होता है. यदि कोई व्यक्ति या संस्था सिक्कों को लेने से मना करती है तो इसका सीधा मतलब है कि वह सरकार के आदेश को मानने से इंकार कर रहा है. इसलिए उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी.

Current Affairs – 21– july 2019 And GK Question & Answers

Current Affairs – 20– july 2019 And GK Question & Answers

Current Affairs – 18– july 2019 And GK Question & Answers